Home Dosti Shayari Dosti adhuri hai mohabbat ke bina dost | Dosti Shayari

Dosti adhuri hai mohabbat ke bina dost | Dosti Shayari

Dosti shayari :- हम पैदा होते है तो हमारे पारिवारिक रिश्ते तो खुद ब खुद ही बन जाते है हमारे पैदा होने पर सबसे पहले हमारा रिश्ता अपने माता – पिता के साथ जुड़ता है या बोल सकते है जुड़ा हुआ होता है। हमारे लगभग रिश्ते पहले से ही बने होते है या समय के साथ – साथ अपने आप ही बन जाते है।

हमारा एक ही ऐसा रिश्ता होता है जिसे हमे बनाना पड़ता है वो रिश्ता और कोई नहीं दोस्ती का होता है। ऐसे बहुत लोग होंगे जो इस समय हमारी शायरी कि कलेक्शन हो पढ़ रहे होंगे और पढ़ते ही अपने मित्र को याद कर रहे होंगे , ऐसा इस लिए है क्योकि दोस्ती एक ऐसा बंधन है जो इंसान एक शरीर के भाग कि तरह उसके साथ जुड़ जाता है।

जब हमारे सामने दोस्त या हमारे दोस्त से रिलेटेड कोई भी बात होती है तो हमारे अंदर एक अलग ही ख़ुशी का फूल आकर्षित होता है और हमारे मुँह पर एक अलग ही मुस्कान आ जाती है क्योकि हमारा अपने दोस्त के साथ अलग ही रिश्ता होता है। हमारा अपने दोस्त के साथ कोई स्पेशल रिलेशन नहीं है एक हवा – सा बना दिया है कि हमारा अपने दोस्त के साथ कुछ स्पेशल रिलेशन नहीं है बल्कि हम अपने दोस्त के साथ बहुत कौमन रिलेशन है। अगर आपका अपने फ्रेंड से कुछ अलग ही नाता है और अपने फ्रेंड को खुद से अलग नहीं समझते हो तो आपके लिए हमारी dosti shayari अच्छी रहेगी।

Dosti Shayari in Hindi 2020

Dosti Shayari in Hindi 2020

दोस्ती अधूरी है मोहब्बत के बिना,
दोस्त जिसके पास है वोह शक्श अमीर है शौरत के बिना…

Dosti adhuri hai mohabbat ke bina,
Dost jiske pass hai voh shaksh ameer hai shourat ke bina…

दुनिया में बहुत गम मिलेंगे,
सच मानो तोह सच्चे दोस्त बहुत ही कम मिलेंगे,
जिस वक्त सब साथ छोड़ देते है,
उस मोड़ पर इंतज़ार करते दोस्त ही मिलेंगे…

Duniya me bahut gam milenge,
sach maano toh sacche dost bahut hi kam milenge,
Jis vakat sab sath chod dete hai,
Us mod par intezaar karate dost hi milnge…

कभी सोचा नही था की ऐसी दोस्ती होगी,
साथ मेरे आप लोगों जैसी हस्ती होगी,
बेवजह में जन्नत की गलियों के ख्वाब क्यों देखूं,
अगर हम जैसे दोस्त साथ रहे तोह नरक में भी मस्ती होगी…

Kabhi socha nhi tha ki esi dosti hogi,
Sath mere aap logo jaise hasti hogi,
Bewajah me jannat ki galiyon ke khwab kyu dekhu,
agar ham jaise dost sath rahe toh narak me bhi masti hogi…

Best Collection of 50+ Dosti Shayari in Hindi 

New Dosti Shayari in Hindi

New Dosti Shayari in Hindi

कुछ दोस्त हमारे दोस्त नहीं होते है,
हमारे अपनों से भी बहुत बढ़कर होते है…

Kuch dost hamare dost nhi hote hai,
Hamare apno se bhi bahut badhakar hote hai…

तेरे बारे में सोचा तोह बहुत मेने,
पर लिखा कम मैने ,
के तारीफ के काबिल मेरे अल्फ़ाज़ ही कहा है…

Tere baare me socha toh bahut mene,
Par likha kam mene ,
Ke tarif ke kabil mere alfaz hi kha hai…

हम भूल जाये उनको ऐसी हमारे दिल की हसरत कहा,
हमें वोह याद करे इतनी उसको फ़ुर्सत ही कहा,
जिनके सर पर चारो तरफ से हो अपनों का हाथ,
उनको हमारी ज़रुरत ही कहा…

Ham bhul jaye unko esi hamare dil ki hasarat kha,
Hame voh yaad kare itni usko fursat hi kha,
Jinke sir par charo taraf se ho apno ka hath,
Unko hamari zaroorat hi kha….

Letest Freindship Shayari in Hindi ( 2020 )

Letest Freindship Shayari in Hindi ( 2020 )

टूट जाता है गरीबी में वोह हमारा रिश्ता जो खास होता है,
हजारो यार बनते है जब पैसा पास होता है…

Toot jata hai Gareebi me voh hamara rishata jo khash hota hai,
Hajaro yaar banate hai jab paisa pass hota hai…

मुस्कराना ही ख़ुशी नहीं होती,
उम्र बिताना ही ज़िन्दगी नहीं होती,
खुदसे भी ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है,
दोस्तों का क्यूँकि दोस्त कहना ही दोस्ती नही होती….

Muskarana hi khushi nhi hoti,
Umar bitana hi Zindagi nhi hoti,
Khudase bhi jayada khayal rakhana padata hai,
Dosto ka kyunki dost kahena hi dosti nhi hoti….

दोस्त बे शक एक हो लेकिन ऐसा हो,
जोह अलफ़ाज़ से ज्यादा खामोशी को समझे….

Dost be shak ek ho lekin esa ho,
Joh alfaaz se jayada Khamoshi ko samaje….

 

Final Words:- 

हम सभी अपने दोस्त को अपने से कभी अलग नहीं समझते है इस लाइन का मतलब आ कर यह निकलता है कि हम अपने दोस्त को खुद के जैसा समझते है और यह सही भी है कि हमारा दोस्त हमारे जैसा है जब हम उसको अपने जैसा समझते है। ऐसा कहा जाता है कि दोस्त को जब हम खोजते तो हम उसमे अपने जैसे गुण देखते है परन्तु ऐसा थोड़ी होता है हम अपने दोस्त को खोजने थोड़ी निकलते है तो हम दोस्त थोड़ी ढूंढ पाएंगे।

दोस्त को खोजा थोड़ी जा सकता है अगर हम दुनिया में निकलेंगे तो हमे पूरी दुनिया ही दोस्त लगेगी , हम दोस्त बनाना बनाना मुश्किल नहीं है परन्तु दोस्त बनाने के लिए उसको खोजने कि जरूरत नहीं है। एक सच्चा दोस्त वह नहीं होता है जो खुद को अच्छा बताकर सच्चा दोस्त बनता है बल्कि सच्चा दोस्त वह होता है जो हमारी अच्छाइयों को हमारे सामने उजागर करता है।

दोस्ती में ऐसा नहीं है कि आज किसी से कर ली और कल से वह आपका सच्चा दोस्त बन गया , दोस्ती तो एक ऐसा पौधा है जिसको जितना समय दोगे उतना मजबूत रिश्ता होगा। एक अच्छे दोस्त को हम कभी आसानी से भुला नहीं सकते है क्योकि इस बंधन को तोडना या भूलना बहुत मुश्किल है।

दोस्त हमारे लिए सबसे कीमती होते है हमारी लाइफ में वो अपना प्यार हमारे लिए मुश्किल के समय में जताते है क्योकि ख़ुशी के समय में तो और भी बहुत लोग होते है। अगर आपको भी अपने दोस्त के लिए शायरी पसंद है और आप भी अपने दोस्त से प्यार करते हो तो आपके लिए dosti shayari एक अच्छा सुझाव है अपने प्यार को दिखाने के लिए , आप हमारी collection को social media पर share भी कर सकते हो।

REVIEW OVERVIEW

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

880FollowersFollow
250FollowersFollow
455FollowersFollow

Popular Shayari